ऑल इंडिया ट्रेन कंट्रोलर्स एसोसिएशन लोको पायलटों की उचित मांगों का समर्थन करते है

ऑल इंडिया ट्रेन कंट्रोलर्स एसोसिएशन (एआईटीसीए) का समर्थन वक्तव्य

पंजीकृत संख्या 17/9857-6/12/2002 (श्रम अधिनियम 1926)

ऑल इंडिया ट्रेन कंट्रोलर्स एसोसिएशन

(राष्ट्रीय निकाय)
पत्राचार के लिए पता: सी/602, लिली बिल्डिंग, अग्रवाल हेरिटेज, यशवंत नगर, विरार पश्चिम, जिला: पालघर, महाराष्ट्र, भारत। पिन: 401303।

ई-मेल: aitcaindia@gmail.com, वेबसाइट: https://aitca.in

संख्या: NB/SG/Protest LP-ALP/2024 तारीख : 11.06.2024

समर्थन वक्तव्य

ऑल इंडिया ट्रेन कंट्रोलर्स एसोसिएशन (एआईटीसीए) लोको पायलटों और सहायक लोको पायलटों की न्यायोचित मांगों का समर्थन करता है!

एआईटीसीए अखिल भारतीय लोको रनिंग स्टाफ एसोसिएशन (एआईएलआरएसए) के नेतृत्व में लोको पायलटों (एलपी) और सहायक लोको पायलटों (एएलपी) की मानव के रूप में जीने और काम करने तथा सुरक्षित रूप से रेलगाड़ियों का संचालन करने के अधिकार की न्यायोचित मांगों का पूर्ण समर्थन करता है। एआईएलआरएसए मांग कर रहा है कि ड्यूटी के घंटों को 10 घंटे तक सीमित किया जाए, आवधिक आराम हर सप्ताह 46 घंटे हो न कि वर्तमान में 30 घंटे, दो दिनों से अधिक लगातार रात्रि ड्यूटी न की जाए और 48 घंटे के भीतर मुख्यालय वापस आ जाए।

1973 में जब संसद में ड्यूटी के घंटों को 10 तक सीमित करने की घोषणा की गई थी, तब से 50 वर्ष से अधिक समय बीत चुका है, लेकिन इसे लागू नहीं किया गया है। क्षेत्रीय श्रम आयुक्त ने फैसला दिया था कि लोको पायलट 30 + 16 घंटे के आवधिक आराम के हकदार हैं और इसे कर्नाटक उच्च न्यायालय ने बरकरार रखा था। इसके बावजूद भी प्रशासन द्वारा एलपी और एएलपी की जायज मांगों को पूरा नहीं किया जा रहा है।

ट्रेन कंट्रोलर्स की भी यही समस्या है। रेलवे बोर्ड के 2016 के आदेश के बाद भी कि उन्हें सघन रोस्टर में कैलेंडर दिवस का विश्राम दिया जाए, प्रशासन इस पर सहमत नहीं है और उन्हें 365 दिन ड्यूटी करने के लिए बाध्य किया जा रहा है। एच.ओ.ई.आर. पर उच्चाधिकार प्राप्त समिति की सिफारिशों की घोर उपेक्षा की जा रही है और जोनल रेलवे द्वारा रेलवे बोर्ड के आदेशों का उल्लंघन किया जा रहा है। यह देखना दुर्भाग्यपूर्ण है कि भारतीय रेलवे की सर्वोच्च संस्था ने जोनों पर नियंत्रण खो दिया है।

एआईएलआरएसए इन मांगों के समर्थन में दक्षिण रेलवे में आंदोलन चला रहा है और एआईटीसीए उनकी जायज मांगों का पूर्ण समर्थन करता है और रेलवे अधिकारियों से एलपी और एएलपी की इन जायज शिकायतों का समाधान करने का आह्वान करता है।

साथ ही, यह अनुरोध किया जाता है कि एच.ओ.ई.आर. पर उच्चाधिकार प्राप्त समिति की सिफारिशों के अनुसार ट्रेन कंट्रोलर्स को भी कैलेंडर दिवस का साप्ताहिक विश्राम दिया जाना चाहिए, ऐसा न करने पर एआईटीसीए उनके कैडर के वैध अधिकारों को सुरक्षित करने के लिए उचित कदम उठाने के लिए बाध्य होगा।

(चंदन चतुर्वेदी)
महासचिव,
ऑल इंडिया ट्रेन कंट्रोलर्स एसोसिएशन,

मोबाइल: 9869106805
ईमेल: aitcaindia@gmail.com
aitcasecretarygeneral@gmail.com

 

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments